उत्तराखंडः रुड़की में कुट्टू के आटे से बनी रोटी खाकर 50 लोगों की तबीयत बिगड़ी

0
126

रुड़की में कुट्टू के आटे से बनी रोटी खाकर बीमार पड़े 50 लोग.

उत्तराखंड के रुड़की में नवरात्र के पहले दिन व्रत के बाद कुट्टू के आटे की बनी रोटियां खाकर बड़ी संख्या में लोगों के बीमार पड़ने से हरकत में आया प्रशासन. खाद्य विभाग ने पुलिस के सहयोग से शुरू किया चेकिंग अभियान.

रुड़की. शारदीय नवरात्र के शुरू होने के पहले ही दिन उत्तराखंड के रुड़की में व्रत के बाद कुट्टू के आटे की रोटी खाकर 50 लोगों की तबीयत खराब हो गई. रुड़की के आसपास के इलाकों में रहने वाले इन लोगों की तबीयत खराब होने के बाद उन्हें तुरंत नजदीकी अस्पतालों में भेजा गया, जहां कुछ लोगों का अब भी इलाज चल रहा है.बताया जा रहा है कि नवरात्र का व्रत करने वाले इन सभी लोगों ने पहले दिन का व्रत खत्म होने के बाद रात में कुट्टू के आटे की बनी रोटी खाई थी. खाने के कुछ ही देर बाद सभी को उल्टी व दस्त की शिकायत हुई और तबीयत खराब होने लगी. इसके बाद आनन फानन में सभी लोगों को नजदी के अस्पताल ले जाया गया. मामूली रूप से बीमार कुछ लोगों को जहां रात में ही प्राथमिक उपचार के बाद अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई, वहीं कुछ लोगों का अब भी इलाज चल रहा है.

सीएमएस संजय कंसल का कहना है कि अस्पतालों में भर्ती सभी मरीजों की हालत सामान्य है. इन लोगों ने कुट्टू के आटे से बनी रोटी खा ली थी, जिसके बाद उनकी तबीयत बिगड़ी है. इधर, बड़ी संख्या में लोगों के बीमार पड़ने और हॉस्पिटल में भर्ती होने की सूचना मिलते ही पुलिस भी मौके पर पहुंची. पुलिस और खाद्य सुरक्षा विभाग के अधिकारी मंडी में पहुंचे और कुट्टू आटे के सैम्पल लेने के निर्देश दिए.

खाद्य सुरक्षा अधिकारी संतोष कुमार का कहना है कुट्टू के आटे के सैम्पल अगर खराब पाए गए तो उन्हें नष्ट कर दिया जाएगा. साथ ही जिन जिन दुकानदारों को ये आटा बेचा गया है, वहां से वापस मंगाया जाएगा. इधर, पुलिस इस घटना के बाद लगातार चेकिंग अभियान चला रही है. एसपी देहात स्वपन्न किशोर का कहना है कि फिलहाल सभी थाना और चौकी प्रभारियों को निर्देश दिया गया है कि वे इस बारे में आम लोगों को जागरूक करें. साथ ही विभिन्न इलाकों में अनाउंसमेंट करवाएं, ताकि अब कोई व्यक्ति इसकी चपेट में ना आए.

! function(f, b, e, v, n, t, s) { if (f.fbq) return; n = f.fbq = function() { n.callMethod ? n.callMethod.apply(n, arguments) : n.queue.push(arguments) }; if (!f._fbq) f._fbq = n; n.push = n; n.loaded = !0; n.version = '2.0'; n.queue = []; t = b.createElement(e); t.async = !0; t.src = v; s = b.getElementsByTagName(e)[0]; s.parentNode.insertBefore(t, s) }(window, document, 'script', 'https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js'); fbq('init', '482038382136514'); fbq('track', 'PageView');

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here